सकलडीहा विकास खंड के महेवां ग्राम पंचायत में पंचायत सहायक अमन पटेल द्वारा कार्यालय ना खोलने की हुई शिकायत-

सकलडीहा, चंदौली। बताते चलें कि इन दिनों चंदौली जनपद में भ्रष्टाचार अपनी चरम सीमा को पार कर चुका है। नियामताबाद ब्लाक अन्तर्गत ग्राम पंचायत भोजपुर में पिछले 20 वर्षों में सरकारी धन का बंदरबांट व भ्रष्टाचार में जांच का मामला अभी पूर्ण नहीं हुआ लेकिन अधिकारी जरुर सदमे में हैं। इसका मुख्य कारण है कि उत्तर प्रदेश शासन द्वारा संरक्षित एवं जेल मैनुअल उत्तर प्रदेश के अन्तर्गत कार्यरत संस्था उत्तर प्रदेश अपराध निरोधक समिति इस समय वाराणसी मण्डल समेत जनपद चंदौली में सक्रिय रूप से कार्यरत है।

ज्ञात हो कि ताजा मामला जनपद के ही सकलडीहा विकासखंड अन्तर्गत ग्राम पंचायत महेवां के ग्राम प्रधान के लेटर पैड पर खण्ड विकास अधिकारी सकलडीहा को लिखित शिकायतीपत्र शोसल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें ग्राम पंचायत में नियुक्त पंचायत सहायक द्वारा घोर लापरवाही कारित किए जाने का मामला प्रकाश में आ रहा है।

शोसल मीडिया पर वायरल सम्बन्धित ग्राम पंचायत के ग्राम प्रधान के लेटर पैड में उल्लिखित है कि ग्राम पंचायत महादेवपुर में ग्राम पंचायत सचिव द्वारा बीते 30 अगस्त को ग्राम पंचायत में आकस्मिक निरीक्षण किया गया और इस दौरान ग्राम पंचायत का पंचायत भवन बंद पाया गया है। शिकायती पत्र में इस बात का स्पष्ट उल्लेख है कि ग्राम पंचायत में पंचायत सहायक द्वारा पंचायत भवन नहीं खोला जा रहा है। ग्राम प्रधान ने लिखित शिकायती पत्र के माध्यम से सम्बंधित प्रकरण में उचित कार्यवाही की मांग की है।

अधिकारी लिखित शिकायती पत्र पर क्या कार्रवाई करते हैं? करते भी हैं या अपराध को संरक्षण देने का कार्य करते हैं यह तो देखने वाली बात होगी। फिलहाल उत्तर प्रदेश अपराध निरोधक समिति की चंदौली जनपद इकाई ने शोसल मीडिया पर वायरल हो रहे शिकायती पत्र के माध्यम से मामले को संज्ञान में लेकर अपनी कार्यवाही आरंभ कर दी है। समिति के मण्डल सचिव भ्रष्टाचार उन्मूलन/अशासकीय कारागार पर्यवेक्षक वाराणसी मण्डल वाराणसी सत्यम कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि कि जल्द ही कमेटी के पदाधिकारियों को गुप्त रूप से ग्राम पंचायत में भेजकर ठोस साक्ष्य इकट्ठा किया जायेगा और शासन स्तर पर रिपोर्ट प्रस्तुत कर समुचित कार्यवाही की मांग की जायेगी।

x

Check Also

कानपुर से फरार इनामी अपराधी

कानपुर से फरार इनामी अपराधी थाना जहानाबाद पुलिस व SOG टीम के साथ हुई कानपुर कमिश्नरेट से 25 हजार रुपये ...

Translate »