अवैध धन उगाही व वसूली के खिलाफ अपनी आवाज को बुलंद करते हुए यूनाइटेड अन्तर्राष्ट्रीय मानवाधिकार ट्रस्ट के राष्ट्रीय महामंत्री निलेश अवस्थी ने ट्रस्ट को दिया त्यागपत्र –

कानपुर, उत्तर प्रदेश। सहायक सम्पादक विनय अग्निहोत्री की रिपोर्ट –

बताते चलें कि यूनाइटेड अन्तर्राष्ट्रीय मानवाधिकार ट्रस्ट में पदाधिकारियों के द्वारा समाज में मानवाधिकार ट्रस्ट का धौंस जमाकर जनता को परेशान करने व अवैध वसूली एवं धन उगाही का पुरजोर विरोध करते हुए ट्रस्ट के राष्ट्रीय महामंत्री निलेश अवस्थी ने यूनाइटेड अन्तर्राष्ट्रीय मानवाधिकार ट्रस्ट में अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।
श्री निलेश अवस्थी ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से समाज सेवा व मानवाधिकारों के रक्षार्थ पंजीकृत यूनाइटेड अन्तर्राष्ट्रीय ट्रस्ट जो कि समाज में माफियागिरी, गुण्डा गिरी व अवैध वसूली व धन उगाही के कार्यों में लिप्त है।
हम समाज सेवा को ही सर्वोपरि मानते हैं और समाज सेवा ही हमारा परम कर्तव्य व परम धर्म है।
समाज के रक्षक लोग समाज के भक्षक होते जा रहे हैं। कुकुरमुत्तों की तरह से ट्रस्ट का पंजीयन कराकर ट्रस्ट को ही अपना व्यवसाय बना लिए हैं।
समाज में यह लोग भय का माहौल पैदा करने में तनिक भी कोर कसर नहीं छोड़ते हैं। ऐसे में समाज सेवा को सर्वोपरि मानने वाले लोग ऐसे संगठनों से बचकर रहें।
उपरोक्त विचारों के दृष्टिगत यूनाइटेड अन्तर्राष्ट्रीय मानवाधिकार ट्रस्ट के गलत नीतियों का विरोध करते हुए मैंने ट्रस्ट को अपना त्यागपत्र दे दिया है। आज से मेरा उपरोक्त ट्रस्ट से कोई वास्ता नहीं है।

x

Check Also

कानपुर से फरार इनामी अपराधी

कानपुर से फरार इनामी अपराधी थाना जहानाबाद पुलिस व SOG टीम के साथ हुई कानपुर कमिश्नरेट से 25 हजार रुपये ...

Translate »